मस्जिद में प्रवेश पर पाबंदी, सेना का अपमान लेकिन प्रगतिशीलता के झंडाबरदार खामोश

हाल में तीन घटनाएं लगभग एक साथ घटी। दिल्ली के जामा मस्जिद में एक नोटिस लगा जिसपर लिखा था कि मस्जिद में लड़की या लड़कियों का अकेले दाखिला मना है। दूसरी घटना में अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने भारतीय सेना का मजाक उड़ाते हुए एक ट्वीट किया। हुआ ये कि लेफ्टिनेंट जनरल उपेन्द्र द्विवेदी ने एक बयान दिया कि भारतीय सेना गुलाम कश्मीर को वापस भारत में मिलाने के आदेश को पूरा करने के लिए तैयार है। इसपर ऋचा चड्ढा ने मजाक उड़ाते हुए टिप्पणी की थी। जामा मस्जिद वाली घटना में दिल्ली के उपराज्यपाल के हस्तक्षेप के बाद मस्जिद प्रबंधन ने अपना निर्णय वापस ले लिया। ट्विटर पर जब चौतरफा हमला होने लगा तो अभिनेत्री ऋचा चड्ढा को भी बात समझ में आई होगी। उसने भी अपनी टिप्पणी पर खेद प्रकट कर दिया। अपने नाना के सेना में होने की बात कहने लगी। तीसरी खबर दारुल उलूम देवबंद से आई। एक ताजा फतवे में कहा गया कि इस्लाम में जन्मदिन मनाना गुनाह है। फतवे में कहा गया कि जन्मदिन मनाना एक खुराफात है क्योंकि इस्लाम और शरीयत में इसका कोई जिक्र नहीं है। जन्मदिन मनाने की परंपरा ईसाइयों की है और मुसलमान उसकी नकल करते हैं। मुसलमानों को इससे बचना चाहिए और शरीयत के बताए रास्ते पर चलना चाहिए।

Source : More...
next
नारी की बढ़ती भागीदारी, बेटे सीखें लैंगिक समानता; इसलिए पंजाब ने पाठ्यक्रम ही बदल दिया

लंबे समय तक कुड़ी मार (लड़कियों का हत्यारा) कहलाने का कलंक झेलने वाले पंजाब में बड़ा बदलाव आ रहा है। कक्षाओं से लेकर व्यापार तक बेटियों को समानता का अधिकार मिलने लगा है। इसे और सशक्त करने के लिए पंजाब स्कूल शिक्षा विभाग ने छठी से आठवीं कक्षाओं के पाठ्यक्रम में बदलाव किया है ताकि बालकों को कम उम्र में ही समझाया जा सके कि बालिकाओं को समान अधिकार और सम्मान प्राप्त हैं।

Source : More...
next
Delhi News: निशानेबाजी में अदिति सेजवाल ने जीते कांस्य पदक, रोज करती हैं पांच से छह घंटे प्रैक्टिस

65वें राष्ट्रीय निशानेबाजी चैंपियनशिप प्रतियोगिता-2022 में रामजस कालेज में बीएससी जीव विज्ञान की छात्रा अदिति सेजवाल ने दो कांस्य पदक जीते हैं। लाडो सराय की रहने वाली 17 वर्षीय अदिति ने ये पदक 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल जूनियर महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप और 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल जूनियर महिला सिविलियन चैंपियनशिप में जीते हैं।

Source : More...
next
अनीता का फुटवियर स्टार्टअप बना बिहार के आरा का ब्रांड, महिलाओं को रोजगार भी

चमड़े से जुड़े उत्पाद में बिहार के आरा की एक महिला ने वोकल फार लोकल की अवधारणा को बल देते हुए अच्छी सफलता प्राप्त की है। उनके परिवार में कोई भी ऐसे किसी कारोबार से नहीं जुड़े हैं। उन्होंने अलग हटकर कुछ करने की ठानी और नोयडा में फुटवियर डिजाइनिंग एंड डेवलपमेंट इंस्टीच्यूट से मास्टर डिग्री ली। इस पढ़ाई का सदुपयोग कर कहीं नौकरी की बजाय खुद उद्यमी बनीं और 20 अन्य महिलाओं को प्रशिक्षण देकर उन्हें अपने यहां रोजगार भी दे रही हैं। वे 'फैक्ट्री' ब्रांड से जूते-चप्पल तैयार कर दुकानों को सप्लाई कर रही हैं। साथ ही शहर के पकड़ी इलाके में फैक्ट्री ट्रेड जोन (एफटीजेड) नाम से एक आउटलेट भी बना लिया है।

Source : More...
next
हरियाणा के करनाल से लेकर आस्ट्रेलिया की राजधानी कैनबरा तक बेटी ने दिया संदेश

यूं तो इस नाम का मतलब है सांझ का समय, लेकिन यह बेटी है जागरूकता की नई सुबह। पांच वर्ष की अवस्था में घर में ही बेटे-बेटी का भेदभाव महसूस करने वाली संजोली ने हरियाणा के करनाल से लेकर आस्ट्रेलिया की राजधानी कैनबरा तक नारी सशक्तिकरण की प्रेरक परिभाषा लिखी है। अपने बुद्धि-कौशल के बूते महज डेढ़ वर्ष में तीन अंतरराष्ट्रीय सम्मान हासिल कर संजोली ने यह साबित कर दिखाया कि यकीनन हमारी बेटियां किसी से कम नहीं। वर्ष 2016 में 12वीं में हरियाणा में टापर बनीं संजोली विश्व की आठवीं रैंकिंग वाली नेशनल यूनिवर्सिटी कैनबरा में पढ़ रही हैं। माता गगन और पिता मिहिर बनर्जी शिक्षक हैं।

Source : More...
next
Chamoli News: 500 वर्ष पुरानी परंपरा है रम्माण उत्सव, UNESCO ने विश्‍व धरोहर सूची में भी किया है शामिल

उत्तराखंड के चमोली जिले के सलूड-डुंग्रा गांव में प्रति वर्ष अप्रैल माह में रम्माण उत्सव का आयोजन होता है। इस उत्सव को वर्ष 2009 में यूनेस्को की ओर से राष्ट्रीय धरोहर भी घोषित किया गया है।

Source : More...
next
Chandni Chowk Fire: तीन दिन में करीब 500 करोड़ से ज्यादा का नुकसान, 250 से ज्यादा दुकानें बर्बाद

लगातार तीन दिन से भागीरथ पैलेस की आग शांत होने का नाम नहीं ले रही है। तीन दिन बाद भी पूरी तरह आग बुझाने का कार्य पूरा नहीं हुआ है। इसके बीच शनिवार सुबह स्वयं उपराज्यपाल वीके सक्सेना अधिकारियों के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। यहां उन्होंने अधिकारियों से पूरी घटना की जानकारी ली। साथ ही यहां पर होने वाली इस तरह की घटनाओं के स्थायी समाधान के लिए एक बहु अनुशासात्मक समिति का गठन कर दिया है। यह समिति, न केवल चांदनी चौक बल्कि सदरबाजार और पहाड़गंज में इसको लेकर काम करेगी। इसमें सभी हितधारकों से बातचीत कर इसके स्थायी समाधान पर कार्य किया जाएगा।

Source : More...
next
भारत की अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में एक नए अध्याय की शुरुआत, एक्सपर्ट व्यू

भारत ने अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में एक नए अध्याय की शुरुआत कर दी है। पिछले दिनों एक निजी स्टार्टअप कंपनी स्काईरूट एयरोस्पेस द्वारा विकसित राकेट विक्रम-एस के जरिये तीन उपग्रहों को कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया गया। नई शुरुआत के प्रतीक रूप में इस मिशन को प्रारंभ नाम दिया गया। इसी के साथ देश की अंतरिक्ष गतिविधियों में निजी क्षेत्र का प्रवेश भी हो गया है।

Source : More...
next
अंग्रेज तो चले गए..; तोप-गोला और सैन्य हथियारों के लिए कानपुर को बनाया था गढ़, पढ़ें- आयुध निर्माण का रोचक सफर

काफी पहले से तोप-गोला, हथियारों के निर्माण से लेकर आयुध भंडारण का बड़ा केंद्र रहा है। गंगा और यमुना नदियों के बीच बसे इस शहर में जल परिवहन की सुगम सुविधा थी, इसीलिए अंग्रेजों ने इसे अपना गढ़ बना लिया। सैन्य जरूरतों का सामान व आयुध बनाकर उन्हें जलमार्ग से एक से दूसरी जगह पहुंचाया जाता था। अपने जड़ें गहरी जमाने के लिए आजादी से छह साल पहले ही उन्होंने आयुध भंडारण को केंद्रीय आयुध डिपो यानी सीओडी की स्थापना की थी। अंग्रेज तो चले गए, लेकिन कानपुर की रक्षा उपलब्धियों का दायरा बढ़कर अब राष्ट्र को गर्व, गौरव और अभेद्य सुरक्षा का अहसास करा रहा है।

Source : More...
next
गहरी हैं देश में लोकतंत्र की जड़ें, वह हमारी धरोहर है जिस पर हमें अभिमान होना चाहिए

लोकतंत्र भारत की आत्मा है। इसके उदाहरण भारतीय समाज एवं संस्कृति में देखे जा सकते हैं। लोकतंत्र का तात्पर्य है लोक का तंत्र। लोक शब्द जनता का सूचक है एवं तंत्र शब्द से शासन अथवा व्यवस्था का बोध होता है। प्राचीन भारतीय साहित्य एवं पुरातत्व में विश, जन, प्रजा एवं गण आदि शब्द लोक के लिए प्रयुक्त होते रहे हैं, जिनका प्रयोग सामूहिक शासन संचालन में जनता की सहभागिता एवं कल्याण के लिए किया जाता रहा है।

Source : More...
next